Breaking News
Home / Breaking News / पद्मावत’ विरोध में स्कूल की बस में तोड़फोड़, डर कर सीट के नीचे बैठे बच्चे

पद्मावत’ विरोध में स्कूल की बस में तोड़फोड़, डर कर सीट के नीचे बैठे बच्चे

Hits: 42

निर्देशक संजय लीला भंसाली की विवादित फिल्म ‘पद्मावत’ सुप्रीम कोर्ट के आदेश से गुरुवार को रिलीज होने के लिए तैयार है, लेकिन इससे पहले फिल्म की रिलीज को लेकर देशभर में बवाल मचा हआ है। दिनभर दिल्ली, हरियाणा, उत्तर-प्रदेश, गुजरात व राजस्थान में विरोध व हिंसक प्रदर्शन के बाद शाम को आक्रोशित कार्यकर्ताआें ने गुरुग्राम में भी जमकर तोड़फोड़ की गई है। वहीं प्रदर्शनकारियों ने स्कूल की बस को भी नहीं छोड़ा।

लगातार पत्थरबाजी व तोड़फोड़ किए जाने से स्कूल बस में सवार बच्चे सहम गए। बच्चों ने बस की सीटों के नीचे छिपकर अपने आप को बचाया। इस घटना का वीडियो भी बनाया गया है जो समाचार चैनलों पर वायरल हो रहा है। सूचना पर पहुंची पुलिस ने जैसे-तैसे करणी प्रदर्शनकारियों को खदेड़ते हुए बच्चों को दूसरी बस से घरों के लिए रवाना किया।

इसी प्रकार विरोध की आग देश के जम्मू-कश्मीर राज्य में पहुंच गई।उपद्रवियों के एक समूह ने एक सिनेमा थियेटर में तोड़-फोड़ की और यहां तक कि उसे जलाने की भी कोशिश की। पुलिस ने यह जानकारी दी। संजय लीला भंसाली की विवादास्पद फिल्म का प्रदर्शन गुरुवार को केनाल रोड स्थित थियेटर में होने वाला है।

प्रदर्शनकारियों ने वहां फर्नीचर व अन्य सामग्रियों को तोड़ दिया और आग लगाने की कोशिश की, लेकिन समय रहते प्रत्यक्षदर्शियों और थियेटर कर्मचारियों ने इसे बुझा दिया. पुलिस ने बाद में इन प्रदर्शनकारियों को वहां से खदेड़ दिया. इस फिल्म को लेकर विवाद थमने का नाम नहीं ले रहा है. देशभर में इसकी रिलीज पर रोक लगाने के लिए राजपूत करणी सेना लगातार विरोध कर रहा है।

इधर, फिल्म के खिलाफ बढ़ते विरोध को देखते हुए मल्टीप्लेक्स एसोसिएशन ऑफ़ इंडिया ने राजस्थान, गुजरात, मध्य प्रदेश और गोवा में उसके सदस्यों ने फिल्म स्क्रीन नहीं करने का फैसला लिया है। ये एसोसिएशन देश की 75 प्रतिशत मल्टीप्लेक्स मालिकों का प्रतिनिधित्व करता है। ये फैसला कुछ थियेटर्स और उनके बाहर हिंसा आगजनी की घटनाओं के बाद लिया गया है।

Check Also

प्रखंड स्तरीय पदाधिकारियों को जिला प्रशासन के कदम से कदम मिलाकर करना चाहिए कार्य

Hits: 0नलिनी भारद्वाज, वैशाली। कोरोना की रोकथाम को लेकर राज्य सरकार और स्थानीय प्रशासन द्वारा …

बिदुपुर में चल रहे सामुदायिक किचेन का आर्थिक दृष्टि से कमजोर श्रमिक ले रहे लाभ

Hits: 0बिदुपुर। गरीब और लाचार व्यक्तियों के लिए मुख्यमंत्री द्वारा सामुदायिक कीचेन खोलने के निर्देश …

error: Content is protected !!
%d bloggers like this: