Breaking News
Home / Breaking News / फरार चल रहा सजायाफ्ता पुलिस के हत्थे चढ़ा

फरार चल रहा सजायाफ्ता पुलिस के हत्थे चढ़ा

Hits: 34

रिपोर्ट: पवन द्विवेदी, सुल्तानपुर।

हत्या के मामले में फरार चल रहा सजायाफ्ता पुलिस के हत्थे चढ़ गया। पुलिस को दो साल से उसकी तलाश थी। नाम बदलकर चकमा देने वाले विजय प्रताप सिंह उर्फ बब्बू सिंह पर दस हजार रूपये का ईनाम भी घोषित था।

पिछले दो सालों से पुलिस को सरवन गांव निवासी विजय प्रताप सिंह उर्फ बब्बू सिंह की तलाश थी,जो कि बीती रात गोसाईगंज थाने की पुलिस के हत्थे चढ़ गया। फरार चल रहे सजायाफ्ता बब्बू सिंह पर पुलिस ने दस हजार रूपये का ईनाम भी घोषित किया था।

मालूम हो कि दो अक्टूबर 1982 को ट्यूबेल पर गये महमूदपुर-गोसाईगंज निवासी अभियोगी जगराज सिंह के बेटे जंग बहादुर सिंह की पानी के विवाद के चलते आरोपी विजय प्रताप सिंह उर्फ बब्बू सिंह ने गोली मारकर हत्या कर दी थी। इस मामले में बब्बू सिंह को जिला न्यायालय से आजीवन कारावास की सजा सुनाई गयी थी।

इस फैसले के खिलाफ विजय प्रताप सिंह ने हाईकोर्ट में अपील की थी। अपील को आंशिक रूप से स्वीकार करते हुए विजय प्रताप की सजा को आजीवन कारावास से परिवर्तित करते हुए दस वर्ष के सश्रम कारावास व पांच हजार रूपये अर्थदंड के रूप में हाईकोर्ट ने बदल दी थी। पांच नवम्बर 2015 को अपील पूर्ण रूप से निर्णीत कर दी गयी। मामले में दोषसिद्ध विजय प्रताप करीब दो वर्षों से फरार चल रहा था।

उसकी गिरफ्तारी के लिए जिला जज प्रमोद कुमार की अदालत ने कई पेशियों पर एसपी को पत्र लिखा एवं जमानतदारों को भी नोटिस जारी की।लेकिन नाम बदलकर बाबू सिंह पुलिस को चकमा देता रहा। जिसे दस हजार का ईनामी भी घोषित किया गया था। द्वारिकागंज चौकी प्रभारी रतन कुमार शर्मा, हेड कांस्टेबल जय करन सिंह, कांस्टेबल त्रिलोकी भारती, संजय कुमार ने पुलिस गश्त के दौरान कटका मायंग मोड़ पर बब्बू को पकड़ लिया। शुक्रवार को पुलिस ने ईनामी सजायाफ्ता बब्बू सिंह को जिला जज की अदालत में पेश किया। जिसे सजा भुगतने के लिए जिला कारागार भेजा गया है।

Check Also

गंडक तटबंध पर बचे कार्य के लिए व्यक्त की नाराज़गी

Hits: 0वैशाली।  जिलाधिकारी वैशाली श्रीमती उदिता सिंह ने अपर समाहर्ता , BDO वैशाली, CO हाजीपुर …

सहदेई बुजुर्ग बाजार स्थित सेंट्रल बैंक ऑफ इंडिया की शाखा के बाहर कोरोना गाइडलाइन की जमकर उड़ी धज्जियां

Hits: 0सहदेई बुजुर्ग – लॉकडाउन के दूसरे दिन सहदेई बुजुर्ग प्रखंड में एक और जहां …

error: Content is protected !!
%d bloggers like this: