Breaking News
Home / National / Bihar / स्वक्षता का अलख जगाने के लिए जन्दाहा प्रखंड में पहुँचा चौबीस सदस्यीय स्वक्षता टीम

स्वक्षता का अलख जगाने के लिए जन्दाहा प्रखंड में पहुँचा चौबीस सदस्यीय स्वक्षता टीम

Hits: 38

शिशिर समीर, जन्दाहा। चंपारण सत्याग्रह के शताब्दी समारोह में प्रधानमंत्री के आगमन को लेकर स्वक्षता का अलख जगाने के लिए जन्दाहा प्रखंड में उत्तर प्रदेश के बुंदेल शहर से पहुँचा चौबीस सदस्यीय स्वक्षता टीम , जन्दाहा पहुँचकर विडिओ मुकेश कुमार के साथ बनाया रणनीति और पाँच भागो में बँटकर निर्धारित पंचायत के लिए हुई रवाना। टीम दिन के लगभग तीन बजे पहुँचती है मुकुंदपुर भाथ के उत्क्रमित मध्य विद्यालय, जहाँ पर पहले से ग्रामीण मौजूद हैं।

ग्रामीणों को बाहर के आदमी बात करने के लिए आने वाले हैं कहकर बुलाया गया था। टीम उपस्थित ग्रामीणों से वहाँ की भौगोलिक, अर्थिक, पेशा, शिक्षा और बिमारी की जानकारी लेती है, फिर शुरू हो जाता है ग्रामीणो से संवाद। बताती है सत्तर प्रतिशत बिमारी की वजह खुले में शौच और देती मख्खीयों के माध्यम से अपने द्वारा खुले में किए गए खुद मल खाने की जानकारी।

लोगों को देती डब्बा बंद पीने के लिए पानी, फिर ग्लास में मल डालकर देती पानी और कहती पीने के लिए। फिर लोग भागने लगते तो कहती अब क्यों नहीं पिओगे? लोग बताते की गंदा डाला हुआ है, फिर करती सवाल कि तुम्हें शर्म नहीं आती, खुले में शौचकर खुद खाते हो और यहाँ करते हो बहाना। फिर पुछती बेटी है तुम्हारे पास, लोगों का जबाब सुनकर कहती हैं जाती होगी मोबाइल लेकर शौच के लिए। फिर कुछ दिन बाद होती होगी फरार।

तुम सुनो शााउचालय नहीं बनाने के कारण तानें और करो खुनखराब, जाओ जेल। फिर पूछती है भगवान को मानते हो, जमीन पर गिरे समान भगवान पर चढाते हो और दुकानदार के लड्डू पर बैठे मख्खियों वाला भगवान को खिलाते हो, जिसमें तुम्हारी मल है, भगवान को अपनी ही शौच खिलाओगे, तो नाराज नहीं होंगे भगवान।

यह समझाकर लोगों को खुले में शौच नहीं जाने की सलाह देकर निर्धारित स्थल को रवाना हो जाती, जहाँ वो ठहरी हुई है। सुबह के तीन बजे हाँथ में टॉर्च, सीटी लिए गाँव में फिर पहुँचती, जिसकी जानकारी लोगों को नहीं है और प्रतीक्षा करती हाथ मे डब्बा लिए घर से निकलने की। जैसे ही लोग शौच के लिए बैठते बजाने लगती सीटी। लोग शौच से लौटते कि आगे से घेर लेती और तरह-तरह के सवालों के जरीय करती शौचालय बनबाने और खुले में शौच नहीं जाने के लिए प्रेरित।

फिर हो जाती है सबेर और पढ रहे बच्चों को देखकर पहुँच जाती, देखती नाखुन और किसी को खुले में शौच नहीं जाने देने की बात कहकर सरकारी योजनाओं की जानकारी देते हुए जाती लौट। टीम का अभियान इलाके में चर्चा का विषय बन गया है। वही बाहरी लोगों द्वारा शााउचालय के लिए की जा रही बेइज्जती से शााउचालय बनाने की जिज्ञासा भी तेज हो गई। वहीं प्रखंड विकास पदाधिकारी मुकेश ने टीम के कामों को सराहा और कहा अब हम जंदाहा प्रखंड को बहुत जल्दी ओडीएफ करा लेंंगे।

Check Also

युवा जदयू के नवनियुक्त जिला अध्यक्ष चंदन कुमार सिंह का कार्यकर्ताओं ने किया स्वागत

Hits: 0 महनार – युवा जदयू के नवनियुक्त जिला अध्यक्ष चंदन कुमार सिंह का अपने …

भाजपा के बछवाड़ा विधायक को नहीं है सोशल डिस्टेंस का ख्याल, बिना मास्क पहने हीं पहुंच गए कार्यक्रम में

Hits: 0राकेश यादव, बछवाड़ा (बेगूसराय)। समूचे देश में कोरोना कहर बरपा रही है और सरकार …

error: Content is protected !!
%d bloggers like this: