Breaking News
Home / National / Bihar / जिलास्तरीय सहिया सम्मेलन का आयोजन सम्पन्न

जिलास्तरीय सहिया सम्मेलन का आयोजन सम्पन्न

Hits: 15

संजय श्रीवास्तव,देवघर। शान्ति कोठी (बिजली कोठी), बम्पास टाउन में सिविल सर्जन डाॅ0 कृष्ण कुमार एवं जिला जनसम्पर्क पदाधिकारी श्री रवि कुमार की संयुक्त अध्यक्षता में जिलास्तरीय सहिया सम्मेलन का आयोजन किया गया।

कार्यक्रम की शुरूआत दीप प्रज्वलित कर की गयी। इस मौके पर वहाँ उपस्थित सभी लोगों को संबोधित करते हुए सिविल सर्जन द्वारा बतलाया गया कि राष्ट्रीय ग्रामीण स्वास्थ्य मिशन का प्रारंभ 12 अप्रैल, 2005 को किया गया था, जिसका मुख्य उद्देश्य मातृ मृत्यु तथा शिशु मृत्यु दर एवं प्रजनन दर में कमी लाना है एवं झारखण्ड में आशा कार्यकर्ता के रूप में सहिया की अवधारणा अंतिम गांव के अंतिम व्यक्ति तक स्वास्थ्य सेवा पहुँचाने के उद्देश्य से लाई गई; ताकि समुचित जानकारी के अभाव में कोई भी व्यक्ति स्वास्थ्य सुविधा प्राप्त करने से वंचित न रह जाय।

इसके अलावा उनके द्वारा बतलाया गया कि वर्ष-2006 से 2008 तक राज्य भर में लगभग 32 हजार ग्राम स्वास्थ्य स्वच्छता एवं पोषण समितियों व लगभग 40 हजार सहियाओं का चयन एन0जी0ओ0 के सहयोग से किया गया, जिसके अन्तर्गत देवघर जिले में 2238 ग्राम स्वास्थ्य स्वच्छता एवं पोषण समिति एवं 2700 सहियाएं सक्रिय रूप से कार्य कर रही हैं। वहीं उन्होंने कहा कि समय-समय के सहियाओं के क्षमता वृद्धि के लिए 08 मोड्यूल में महिला स्वास्थ्य, शिशु स्वास्थ्य, किशोरी स्वास्थ्य, महिला हिंसा के विरूद्ध सामुदायिक पहल, संचारी एवं गैर संचारी रोग आदि विषयों पर प्रशिक्षण दिया जाता है; ताकि उन्हें इस संबंध में समुचित जानकारी प्रदान की जा सके।

इसके अतिरिक्त सिविल सर्जन द्वारा जानकारी दी गयी कि सहियाओं के प्रयास से देवघर जिले में भी संस्थागत प्रसव 9 प्रतिशत से बढ़ कर लगभग 56 प्रतिशत एवं टीकाकरण 60 प्रतिशत से बढ़ कर 91 प्रतिशत हो गयी है। इसके अलावे परिवार कल्याण सेवाएं, टी0बी0, मलेरिया, फाईलेरिया, कुष्ट उन्मूलन आदि स्वास्थ्य सेवाओं में भी निरंतर वृद्धि हो रही है।

इस दौरान जिला जनसम्पर्क पदाधिकारी ने कहा कि जिलास्तरीय सहिया सम्मेलन के आयोजन का मुख्य उद्देश्य सहियाओं को सम्मान देकर प्रोत्साहित करना है, ताकि वे और भी अच्छा कार्य सके। इसके अलावे उन्होंने कहा कि ग्रामस्तर पर यदि स्वास्थ्य सुविधाएं की बात की जाय तो हम पाते हैं कि पिछल कुछ वर्षों के अपेक्षा इसमें काफी सुधार आयी है और बहुत से सुधार की अभी भी आवश्यकता है; जिसे सहियाओं के सहयोग से हीं ग्रामस्तर पर क्रियान्वित किया जा सकता है।

स्वास्थ्य के क्षेत्र में हमने जो भी उपलब्धि हासिल की है या विभिन्न रोगों यथा-पोलियो, कालाजार, मातृ मृत्यु दर, शिशु मृत्यु दर आदि के आंकड़ों में जो भी सुधार आया है, वह सहियाओं के सहयोग से हीं संभव हो पाया है क्योंकि प्रसव के दौरान या चिकित्सकीय के दौरान लोगों (विशेष कर ग्रामिणों) को यह विश्वास होता है कि सहियाओं द्वारा उन्हें इस संबंध में उचित जानकारी दी जायेगी कि संस्थागत प्रसव किस प्रकार करवाना है या किसी बीमारी हेतु किस प्रकार चिकित्सकीय जाँच प्राप्त करनी है। साथ हीं उन्होंने कहा कि सहियाएं वास्तव में बहुत हीं अच्छे ढंग से कार्य कर रही हैं एवं उनका यह प्रयास होना चाहिचे कि ग्रामस्तर पर अधिक से अधिक लोगों को सरकार द्वारा मुहैया करायी जा रही स्वास्थ्य संबंधी सुविधाओं की जानकारी देकर जागरूक किया जाय; ताकि वे संस्थागत प्रसव हेतु प्रेरित हो सके।

इस मौके पर नुक्कड़-नाटक के माध्यम से भी वहाँ उपस्थित लोगों को जानकारी दिया गया एवं सिविल सर्जन व जिला जनसम्पर्क पदाधिकारी द्वारा अपने-अपने क्षेत्र में उत्कृष्ट कार्य करने वाली सहियाओं को सम्मानित किया गया। कार्यक्रम में विभिन्न चिकित्सकगण सहित सैंकड़ों सहियाएं उपस्थित थी।

Clean Deoghar Green Deoghar

Check Also

लोजपा प्रत्याशी संजय सिंह ने चलाया जनसंपर्क अभियान

Hits: 0महुआ । महुआ विधानसभा क्षेत्र के लोजपा प्रत्याशी संजय सिंह ने महुआ प्रखंड के …

चोरी की बढ़ते घटना से लोगों में दहशत

Hits: 0महुआ । महुआ थाना क्षेत्र के मंगुराही पंचायत के मंगुराही गांव में गुरुवार की …

error: Content is protected !!
%d bloggers like this: