Breaking News
Home / National / Bihar / रामावतार सहाय उच्चतर माध्यमिक विद्यालय में डीएलएड प्रशिक्षणार्थियों का हंगामा

रामावतार सहाय उच्चतर माध्यमिक विद्यालय में डीएलएड प्रशिक्षणार्थियों का हंगामा

Hits: 51

नितेश कुमार चौधरी, जन्दाहा। अपनी आदतन परिचय का परित्याग नहीं करने पर आमादा जिले के सुप्रतिष्ठित विद्यालय मेंं सुमार रामावतार सहाय उच्चतर माध्यमिक विद्यालय में डीएलएड प्रशिक्षणार्थियों का हंगामा आज पुनः देखने को मिला। लगातार मनमानी और कुव्यवस्था का आरोप झेल रही इस विद्यालय में शिक्षकों की मनमर्जी थमने का नाम नहीं ले रहा है। ऐसी कोई परीक्षा या नामांकन नहीं है,जिसमें छात्रों को विद्यालय से लेकर सङक तक हंगामा करने पर मजबूर नहीं होना पङा हो ।वहीं शिक्षकों की गुटबाजी भी जगजाहिर होते रही हैं। जिससे विद्यालय की साख पर सवाल खङा होता हैं।

विदित हो कि विद्यालय में डीएलएड प्रशिक्षण केंद्र है।जिसमें कुल दो सौ प्रशिक्षणार्थी हैं,जिनका प्रशिक्षण कार्य चल रहा है। जिसका मुल्यांकन कर प्राप्तांक निर्धारित हुआ है।मुल्यांकन का मार्क्स इंटरनेट पर देखकर अभ्यर्थियों ने कोर्डिनेटर और कुछ शिक्षकों पर अपने चेहते और पैसा देने वाले को अधिक नम्बर देने का आरोप लगाते हुए हंगामा किया। शिक्षक अभ्यर्थियों को सुधार हो जाने का भरोसा देते रहे, लेकिन उनका आक्रोश और संख्या और धीरेधीरे बढते गया।आक्रोश को देखकर आरोपी शिक्षक खिसक गए ।

प्रशिक्षणार्थी अर्चना, निभा, सोनी, किरण, प्रियंका, पुष्पांजलि, पींकी कुमारी, मोहम्मद साबिर, जितेंद्र और अंजना आदि ने कोर्डिनेटर कुमारी आभा और कुछ शिक्षकों पर पैसा लेकर नम्बर देने का आरोप लगाया। उनका कहना था कि जो प्रेक्टिकल का कॉपी भी जमा नहीं किया है उसे अधिक नम्बर दिया गया है।प्रशिक्षणार्थियों ने कॉपी में दर्ज नम्बर के साथ भी हेराफेरी करने की बात बताया। वो शिक्षक से कॉपी दिखाने का दबाव दे रही थी, वहीं शिक्षक कोर्डिनेटर को आने पर सुधार कर देने का अस्वासन दे रहे थे।

आरटी अमीत कुमार ने इस संबंध कुछ भी कहने से इंकार किया। उन्होंने कहा कि इस संबंध में जो कुछ भी कहना है वो कोर्डिनेटर ही बता सकती हैं। जबकि कोर्डिनेटर सह प्रधानाध्यापिका कुमारी आभा हंगामे की जानकारी होते फरार बताई जाती हैं। एक शिक्षक ने नाम नहीं बताने की शर्त पर बताया कि जिन अभ्यर्थियों को नब्बे अंक दिया गया है उसे साठ और जिसे साठ उसे समेस्टर बनाते वक्त नब्बे कर दिया गया है। अब आप इसी से अंदाजा लगा सकते है कि विद्यालय में क्या हो रहा है ? हलांकि उसने सभी शिक्षकों को दोषी मानने से इंकार किया और कहा कि चंद शिक्षकों की ही इस हेराफेरी में संलिप्तता है।

राजद पंचायती राज प्रकोष्ठ के जिलाध्यक्ष मोहम्मद निसार, समाजसेवी संजीव कुमार, संजय आदि ने कहा कि वाकई अभ्यर्थियों का आरोप और शिक्षकों द्वारा मिल रही सूचना सत्य है तो यह एक गंभीर समस्या है, जिस पर वरीय अधिकारियों को अविलंब ध्यान देना चाहिए।

ये हालत अभ्यर्थियों के भविष्य के साथ खिलवाड़ करने के समान है। उनका ये भी कहना था कि यदि विद्यालय में गङबङी नहीं की जाती हैं तो साल में दो-चार बार विद्यालय के छात्रों को हंगामे क्यों करना पङता। वे लोग शिक्षकों के आपसी गुटबंदी में पठनपाठन पर कुप्रभावित होने का आरोप लगाया।

डीएलएड प्रशिक्षणार्थी का हंगामा जन्दाहा प्रखंड के रामावतार सहाय उच्चतर माध्यमिक विद्यालय जन्दाहा में हुआ।

Check Also

लोजपा प्रत्याशी संजय सिंह ने चलाया जनसंपर्क अभियान

Hits: 0महुआ । महुआ विधानसभा क्षेत्र के लोजपा प्रत्याशी संजय सिंह ने महुआ प्रखंड के …

चोरी की बढ़ते घटना से लोगों में दहशत

Hits: 0महुआ । महुआ थाना क्षेत्र के मंगुराही पंचायत के मंगुराही गांव में गुरुवार की …

error: Content is protected !!
%d bloggers like this: