Breaking News
Home / National / प्रदेश महासचिव युवा जदयू को दहेज़ ना लेना पड़ा भारी

प्रदेश महासचिव युवा जदयू को दहेज़ ना लेना पड़ा भारी

Hits: 274

रिपोर्ट : शिशिर समीर। जन्दाहा निवासी विनोद कुशवाहा प्रदेश महासचिव युवा जदयू नुतन कुमारी पिता- ललन सिंह ग्राम -अख्तियार पुर थाना -महुआ के साथ पतालेश्वर मंदिर में 2008 में पिता के मर्जी के खिलाफ शादी किया था । पिता सरकारी कर्मी और अच्छे जायदाद वाले होने के कारण अच्छे रिश्ते को दरकिनार कर विनोद ने शादी किया, जो पिता को नही भाया। पिता सूर्यदेव सिंह समता कालेज में कार्यरत है ।

शादी के बाद से ही सूर्यदेव सिंह अपने छोटे लड़के प्रमोद सिंह के सहयोग से नुतन के साथ अक्सर मारपीट किया करते रहते और पिता के सम्पत्ति में अधिकार लेने के लिए दबाव डालते रहते थे। नुतन और विनोद ऐसा नही करना चाहते। इन्हीं खुन्नस को लेकर सूर्यदेव सिंह और प्रमोद कुमार सिंह ने नुतन पर न केवल जानलेवा हमला कर जख्मी कर दिया, बल्कि सात साल के बेटी साक्षी और पांच साल के बेटा आदित्य भवानी के साथ घर से भी निकाल दिया। विनोद पत्नी और बच्चे के साथ जन्दाहा के एक दबा व्यवसायी के यहाँ शरण लिये हुए है । दबा व्यवसायी ने जख्मी नुतन का प्राथमिक उपचार पीएचसी जन्दाहा में कराया है, वही विनोद के लिखित शिकायत पर जन्दाहा थाना पुलिस मामले के छानबीन में जुट गई है ।

बताया जाता है कि विनोद कुशवाहा केंद्रीय मंत्री के रिश्ते में भतीजे लगते है। विनोद ने बताया कि मंत्री जी से लेकर सभी शुभचिंतक पिता को समझाकर थक गए, लेकिन दहेज लोभी पिता किसी की बात नही मानते, उल्टे जो समझाने आता है उसी से झगड़ जाते ।जख्मी नुतन ने ससुर पर चरित्रहीन होने का भी आरोप लगाया है। आपबीती कहते -कहते नुतन फफक-फफक कर रोने लगती और इस कड़ाके के ठंड में बच्चे सहित कबतक दूसरे के यहाँ रहेंगे कहते हुए बेहोश सी हो जाती है ।

मामला राजनीतिक परिवार के ओहदेदार लोगों की होने का कारण पुलिस सक्रिय हो गई है । स्थानीय लोगों के अनुसार नुतन एक गरीब परिवार से आती है। एकबार नुतन के पिता जन्दाहा के लकड़ी बाजार में बेटी को देने के लिये फर्नीचर का आर्डर दिया तो विनोद ने उसे लेने से इंकार कर दिया था। विनोद ने ससुर के द्वारा लाये गये मिष्ठान्न के अलावे कुछ भी स्वीकार करने से मना कर दिया ।

स्थानीय लोगो में इस बात की चर्चा बन रही है कि दहेज मुक्त शादी करने के दुष्परिणाम से सरकारी पार्टी के नेता जब नही बच सकते तो आमलोगों की क्या हाल होगा ।लोगो की माने तो तो धनार्जन की इच्छा में लोग अपने संतान को भी सजा देने से नहीं चुकते ।
मामला जन्दाहा थाना क्षेत्र के जन्दाहा बाजार का है ।

Check Also

लोजपा प्रत्याशी संजय सिंह ने चलाया जनसंपर्क अभियान

Hits: 0महुआ । महुआ विधानसभा क्षेत्र के लोजपा प्रत्याशी संजय सिंह ने महुआ प्रखंड के …

चोरी की बढ़ते घटना से लोगों में दहशत

Hits: 0महुआ । महुआ थाना क्षेत्र के मंगुराही पंचायत के मंगुराही गांव में गुरुवार की …

error: Content is protected !!
%d bloggers like this: