Breaking News
Home / National / Bihar / Vaishali / Raghopur / Bidupur / पति-पत्नी की अद्भुत लीला में हलकान पुलिस दर-दर भटकती फिरी, फिर भी परिणाम शून्यता की स्थिति में

पति-पत्नी की अद्भुत लीला में हलकान पुलिस दर-दर भटकती फिरी, फिर भी परिणाम शून्यता की स्थिति में

Hits: 64

शिशिर समीर, जन्दाहा। पति-पत्नी की अद्भुत लीला में हलकान पुलिस दर-दर भटकती फिरी, फिर भी परिणाम शून्यता की स्थिति में है। दरअसल मामला बिदुपुर थाना क्षेत्र के लड़का- सर्वेश कुमार , पिता-राम वसिष्ठ सिंह और महनार थाना क्षेत्र के महमद पुर निवासी राम प्रवेश राय के बेटी द्वारा आपसी झगड़े में आत्महत्या की कोशिशें से जुङा है।

जानकार सूत्रों के अनुसार राम प्रवेश राय के लङकी की शादी चाँदपुरा सैदावाद के सर्वेश कुमार के साथ है। सर्वेश अपने ससुराल महनार थाना क्षेत्र के महमदपुर आया हुआ था, जहाँ पति-पत्नी के बीच किसी बात पर विवाद हो गया। लङकी पहले सर्वेश के साथ नहीं जाना चाहती थी और जब जाने के लिए तैयार हुई तो पति के साथ। लेकिन परिवार वाले सर्वेश को महमद पुर में रोक लिए और लङकी को भाई ने ससुराल चाँदपुरा सैदावाद पहुँचा दिया।

जानकारी के अनुसार लङकी अपने ससुराल में फांसी लगाकर आत्महत्या कर ली। लेकिन राम प्रवेश राय को जानकारी आया कि फांसी लगाकर आत्महत्या करने का प्रयास किया है, और डॉक्टर के पास इलाज चल रहा। इस बात को लङके से छुपाया गया, लेकिन उसे भनक मिल गई और वो ससुराल में ही कीटनाशक खाकर आत्महत्या करने की कोशिश की।

लङके की हालत बिगरता देख लङकी पक्ष के लोग आनन-फानन में जन्दाहा के चिकित्सा पदाधिकारी के निजी क्लिनिक में भर्ती कराया। जहाँ 14 घंटे तक इलाज चला। लेकिन पत्रकारों के द्वारा जानकारी लेने की शीलशीला शुरू होते ही उसे किसी गुप्त जगह पर भेज दिया गया। लङके ने पूछताछ के क्रम में आम पर छीङकाव करने वाला कीटनाशक पीने की बात बताई। जब उससे पूछा गया कि आपने ऐसा क्यों किया तो मुँह छिपाने लगा और कुछ भी नहीं कहा।

लङके के साथ दो मर्द और एक महिला मौजूद थी, लेकिन जैसे ही फोटो लेने की कोशिश की गई कि वो सब फरार हो गए। इस संबंध में जन्दाहा थाने से जानकारी लेने का प्रयास किया गया तो पता चला कि डॉक्टर ने इस तरह के रोगी भर्ती होने की कोई सूचना नही दिया है।

दूसरी ओर लङके के घर चंदपुरा सैदाबाद में सन्नाटा पसरा है। घर में कपङा यत्र-तत्र बिखरे पङे है तो चुरी चूरचूर होकर जमीन पर गिरे पङे है। एक भी लोग घर पर नहीं है ।बगलगीर किसी बाहरी व्यक्ति को देखते छुप जाते है या कुकििहनों पक्ष के जुबान पर ताला लटका हुआ है। वहीं पुलिस भी भागी फिर रही हैं। एक ग्रामीण ने नाम तो नहीं बताया, लेकिन इतना जरूर कहा कि लङकी अपने ससुराल में फाँसी लगा ली ,तो लङके ने अपने ससुराल में जहर खा लिया ,लेकिन दोनों का इलाज चल रहा है। इतना कहते वो भाग चला।

इस मामले में जन्दाहा थाना को डॉक्टर ने सूचना नही दिया, तो बिदुपुर थाना को जानकारी नहीं होने की बात बताई जा रही हैं। हालांकि मामले में गोपनियता नहीं रहने और मीडिया कर्मी के सवाल करने पर पुलिस हरकत में आई और लङके के चंदपुरा सैदाबाद स्थित दोनों मकान की पङताल की ।दोनों जगहों पर एक भी आदमी मौजूद नही था और घर में ताला लटका था। हालाकि पुलिस घर में बिखरे कपङा, फूटी चुङी और दो आघा की हुई साङी को देखकर घटना का अनुमान तो लगा रही है, लेकिन कुछ बोल नहीं पा रही। जानकर सूत्रों के अनुसार बिदुपुर थाना पुलिस नावा नगर घाट तक गई , लेकिन कुछ भी कहने से बच रही हैं।

कई तरह के सवाल दोनों पक्ष के आमलोगों में चर्चा का विषय बन गया है। कोई दोनों में समझौता, तो कोई पुलिस मैनेज होने की बात कर रहा है। लेकिन एक बङी सवाल है कि आखिर लङके का इलाज जन्दाहा के एक नीजी नर्सिंग होम में हुआ तो लङकी का इलाज कहाँ? आखिर लङकी मरी नहीं तो है कहाँ और यदि है तो परिवार वाले फरार क्यों? दूसरी चीज जब लङके ने जहर खाकर नर्सिंग होम में भर्ती हुआ तो डाक्टर ने पुलिस को क्यों सूचना नही दी। इन हालात में डॉक्टर और पुलिस दोनों के कार्यप्रणाली पर संदेह उत्पन्न कर रहा है, जो कानून की घज्जियाँ उङा है।

Check Also

युवा जदयू के नवनियुक्त जिला अध्यक्ष चंदन कुमार सिंह का कार्यकर्ताओं ने किया स्वागत

Hits: 0 महनार – युवा जदयू के नवनियुक्त जिला अध्यक्ष चंदन कुमार सिंह का अपने …

भाजपा के बछवाड़ा विधायक को नहीं है सोशल डिस्टेंस का ख्याल, बिना मास्क पहने हीं पहुंच गए कार्यक्रम में

Hits: 0राकेश यादव, बछवाड़ा (बेगूसराय)। समूचे देश में कोरोना कहर बरपा रही है और सरकार …

error: Content is protected !!
%d bloggers like this: