Breaking News
Home / National / Bihar / Begusarai / मौत को आमंत्रण दे रहे बीच सड़क पर झूल रहे बिजली के तार

मौत को आमंत्रण दे रहे बीच सड़क पर झूल रहे बिजली के तार

Hits: 48

मृत्युंजय कुमार, भगवानपुर। भगवानपुर (बेगूसराय) एक तरफ सरकार विद्युत व्यवस्था में सुधार करने एवं किसी प्रकार की अनहोनी घटना को रोकने के लिए जर्जर एवं झूल रहे तारों को बदलने या उसके जगह कॉभर वाला तार लगाने के लिए लाखों रूपये खर्च कर रही है, वहीं दूसरी ओर प्रखंड क्षेत्र अंतर्गत मोख्तियारपुर गांव में व्यस्तम सड़क के बीच से गुजर रहे 440 वोल्ट की तार पर सड़क के किनारे लगे बाँस बीट का दर्जनों बाँस के पेड़ उक्त नंगे करेंट प्रवाहित तारों पर गिरा है। जबकि उक्त सड़क से प्रतिदिन सैकड़ों गाड़ियों का आना जाना होता है।

इतना ही नहीं स्कूली बच्चों से भरा दर्जनों छोटे बड़े गाड़ियों सहित गांव के सैकड़ों दुग्ध उत्पादक किसानों या उनके छोटे छोटे बच्चों का प्रतिदिन शाम सुबह अपना दूध लेकर दुग्ध समिति पर देने के लिए आना जाना लगा रहता है। चूकिं दूसरा कोई विकल्प नहीं है। वहीं बनबारीपुर से उत्त्तरी क्षेत्र आने जाने के लिए एकमात्र यही सड़क है।

इस परिस्थिति में कभी भी वहां कोई बड़ी अप्रिय घटना घट सकती है, जिसे देखने वाला कोई नही है।इस संबंध में ग्रामीणों द्वारा कई बार विभागीय अधिकारियों को सूचित किया गया है कि उक्त जगह पर कभर वाला तार लगा दिया जाय लेकिन विभागीय अधिकारी भी कोई बड़ी घटना होने का इंतजार कर रहे हैं, जैसा की लगता है। कई बार ग्रामीण युवकों द्वारा गुजर रहे कोई बड़ी गाड़ी को रोक कर और लाइन काटकर उक्त जगह सड़क पर लटके बांसों को स्वयं काट देते हैं लेकिन कुछ ही दिनों में फिर वही बात होती है।

अतः इस संबंध में ग्रामीण राम चंद्र सिंह, विष्णुदेव महतों, विपिन सिंह, दुकानदार रंजीत सिंह, अशोक कुमार आदि ग्रामीणों ने विभागीय अधिकारियों से उक्त नंगे तारों की जगह कॉभर युक्त तार लगाने की मांग की है, जिससे लोगों को जान माल की क्षति होने से रोका जा सके।

Check Also

गंडक तटबंध पर बचे कार्य के लिए व्यक्त की नाराज़गी

Hits: 0वैशाली।  जिलाधिकारी वैशाली श्रीमती उदिता सिंह ने अपर समाहर्ता , BDO वैशाली, CO हाजीपुर …

सहदेई बुजुर्ग बाजार स्थित सेंट्रल बैंक ऑफ इंडिया की शाखा के बाहर कोरोना गाइडलाइन की जमकर उड़ी धज्जियां

Hits: 0सहदेई बुजुर्ग – लॉकडाउन के दूसरे दिन सहदेई बुजुर्ग प्रखंड में एक और जहां …

error: Content is protected !!
%d bloggers like this: