Breaking News
Home / National / Bihar / महनार विधायक उमेश कुशवाहा समेत अन्य पर लगा प्रमुख की हत्या का आरोप

महनार विधायक उमेश कुशवाहा समेत अन्य पर लगा प्रमुख की हत्या का आरोप

Hits: 224

नलिनी भारद्वाज, वैशाली। वैशाली के RLSP नेता सह जंदाहा प्रखंड प्रमुख हत्याकांड में हम पहले ही आशंका जता चुके थे और उस आशंकाओं पर महनार पूर्व विधायक अच्युतानंद सिंह, सांसद पप्पू यादव के साथ साथ अन्य लोगों ने भी मुहर लगाई थी। वहीं दूसरी और दुलौर निवासी मृतक प्रमुख मनीष सहनी के भाई ओमप्रकाश सहनी द्वारा प्राथमिकी दर्ज कराया गया है। दर्ज प्राथमिकी में उन्होंने बताया की 13 जुलाई को वह अपने छोटे भाई प्रखंड प्रमुख मनीष को अपने आल्टो कार से प्रखंड कार्यालय लेकर आया था। मनीष अपने कार्यालय में जाकर बैठा ही था कि BDO का चालक अपनी गाड़ी लेकर आया और उसने कहा कि साहब आपको अपने आवास पर बुला रहे हैं। जिसके बाद मनीष उक्त चालक के साथ BDO के आवास पर चला गया। कुछ ही देर में वह उसी गाड़ी से अपने कार्यालय के सामने उतरकर अपने चेंबर में जा रहा था।

प्रमुख कार्यालय के पास दो बाइक एक पर पूर्व प्रखंड प्रमुख जय शंकर चौधरी एवं दुलौर गांव निवासी पूर्व मुखिया का बेटा अभय कुमार तथा दूसरे बाइक पर पूर्व मुखिया रामबाबू सहनी एवं जंदाहा के पूर्व मुखिया विनोद चौधरी पहले से मौजूद थे। इसी बीच रामबाबू साहनी ने मनीष को चेंबर में जाने के दौरान जय शंकर चौधरी एवं अभय कुमार को ललकारते हुए कहा क्या देखते हो साफ कर दो जिसके बाद दोनों ने गोली चलाई जिससे उनका भाई मनीष जख्मी होकर गिर गया।

 

 

गोली से घायल मनीष को अन्य लोगों के सहयोग से उठाकर जंदाहा बाजार में डॉक्टर बी झा बिंदु के नर्सिंग होम में इलाज के लिए ले जाया गया। जहां डॉक्टर ने गंभीर स्थिति देखते हुए सदर अस्पताल हाजीपुर रेफर कर दिया।

ओमप्रकाश ने अपने बयान में बताया है की 2 अगस्त को प्रखंड प्रमुख का चुनाव हुआ था। जिसमें उनका भाई प्रमुख पद पर जीत हासिल किया था। आवेदन में बताया गया है कि चुनाव के दौरान सत्ताधारी सरकार के वर्तमान महनार विधायक उमेश सिंह कुशवाहा, जंदाहा निवासी पूर्व मुखिया विनोद चौधरी, अजीत कुमार, नरहरपुर निवासी प्रखंड शिक्षक कुंदन सहनी, रंजीत कुमार एवं रणधीर कुमार, पातेपुर थाना के नारी खुर्द निवासी शिक्षक संकुल साधन सेवी अजय ठाकुर सबों ने जंदाहा के बिंदी चौक पर रोककर उन्हें धमकी भरे शब्दों मे कहा था की तुम्हारे भाई मनीष को कभी प्रमुख नहीं बनने देंगे अगर बन भी गया तो उसे जिंदा नहीं रहने देंगे।

 

इसी दौरान प्रखंड शिक्षा पदाधिकारी ने कहा था कि तुम अपने भाई को शिक्षक नियोजन से अलग रहने को कह देना वरना अंजाम बुरा होगा। मृतक मनीष सहनी के भाई ओमप्रकाश ने कहा है की उन्हें पूरा विश्वास है कि इन्हीं लोगों द्वारा एक साजिश के तहत उनके भाई जंदाहा प्रमुख मनीष सहनी का हत्या किया गया है। आपको बता देे की पूर्व में जब जन्दाहा BDO मुकेश कुमार थे तब मनीष साहनी ने ही इस नियोजन में हो रही गड़बड़ी की शिकायत की थी और अपने समर्थकों के साथ BDO मुकेश कुमार को लिखित शिकायत पत्र भी सौंपी थी और इसी शिकायत में सत्यता पाने पर उनहोने इस आयोजन पर रोक लगा दी थी।

http://www.vaanishree.com/shikshak-bahali-me-vasuli-ko-le-gyapan/

घटना के बाद जंदाहा थाना औऱ प्रखंड परिसर पुलिस छावनी में तब्दील कर दिया गया है। जिलाधिकारी, पुलिस कप्तान समेत भारी संख्या में पुलिस इलाके में गस्ती कर रही है। वही सरकार ने इस हत्याकांड की जाँच SIT से कराने की बात कही है। परंतु सत्ताधारी पार्टी के नेता का नाम आने से विपक्षी नीतीश कुमार को घेरने में लगे है। कांग्रेस नेताओं ने इस घटना को दुखद बताते हुए नीतीश सरकार को खरी खोटी सुनाई वही दूसरी ओर सांसद और जाप अध्यक्ष पप्पू यादव ने वैशाली बंद की घोषणा कर दी है।

Check Also

युवा जदयू के नवनियुक्त जिला अध्यक्ष चंदन कुमार सिंह का कार्यकर्ताओं ने किया स्वागत

Hits: 0 महनार – युवा जदयू के नवनियुक्त जिला अध्यक्ष चंदन कुमार सिंह का अपने …

भाजपा के बछवाड़ा विधायक को नहीं है सोशल डिस्टेंस का ख्याल, बिना मास्क पहने हीं पहुंच गए कार्यक्रम में

Hits: 0राकेश यादव, बछवाड़ा (बेगूसराय)। समूचे देश में कोरोना कहर बरपा रही है और सरकार …

error: Content is protected !!
%d bloggers like this: