Breaking News
Home / National / Bihar / नवप्रवर्तन योजना हेतु जिला पदाधिकारी उदिता सिंह ने बियाडा उद्यमियों के साथ की बैठक

नवप्रवर्तन योजना हेतु जिला पदाधिकारी उदिता सिंह ने बियाडा उद्यमियों के साथ की बैठक

Hits: 0

हाजीपुर/वैशाली वैशाली जिला के बियाडा उद्यमियों के साथ जिला नवप्रवर्तन योजना हेतु जिला पदाधिकारी  उदिता सिंह द्वारा बैठक की गई। बैठक में सर्वप्रथम जिला पदाधिकारी द्वारा उद्यमियों का स्वागत करते हुए उनसे उनकी मूलभूत समस्या के बारे में जानकारी प्राप्त की तथा उन समस्याओं पर जिला प्रशासन क्या कर सकती है इस पर सुझाव मांगा। उद्यमियों द्वारा बताया गया कि बियाडा में जल जमाव की समस्या गंभीर है। सड़क पर प्रकाश प्रबंधन अत्यंत दयनीय अवस्था में है जिसकी सुधार की जरूरत है। इसपर बियाडा के क्षेत्रीय पदाधिकारी द्वारा बताया गया कि इन दोनों समस्याओं के लिए टेंडर प्रक्रिया चल रही है और 1 वर्ष में यह समस्या पूर्ण रूप से समाप्त हो जाएगी। उद्यमियों द्वारा कचरा और गंदगी का मामला उठाया गया। इसके लिए सॉलिड वेस्ट मैनेजमेंट अपनाने पर जोर दिया गया। कुछ उद्यमियों द्वारा परिवहन एवं पार्किंग समस्या के बारे में बताया गया और इसके लिए स्थल निर्धारित करने की मांग की गई ।

औद्योगिक क्षेत्र में अतिक्रमण की समस्या पर भी जिलाधिकारी को उसके समाधान के लिए आग्रह किया गया। जिस पर जिलाधिकारी द्वारा क्षेत्रीय अधिकारी बियाडा को अतिक्रमण चिन्हित करते हुए इसकी सूचना अनुमंडल पदाधिकारी वैशाली सहित जिला पदाधिकारी को देने को कहा। ताकि अतिक्रमण मुक्त कराया जा सके। उद्यमियों द्वारा औधोगिक क्षेत्र का कचरा कम करने का मामला उठाए जाने पर जिला पदाधिकारी ने कहा कि जल्द ही इसे अरवन क्षेत्र में कर लिया जाएगा। इस बैठक में जिलाधिकारी उदिता सिंह ने उद्यमियों को संबोधित करते हुए कहा कि जिले में श्रम आधारित उद्योग की आवश्यकता है ताकि ज्यादा से ज्यादा लोगों को काम दिया जा सके। हाजीपुर में केला चिप्स की व्यापक संभावनाओं पर चर्चा की गई तथा इसे एक राष्ट्रीय उत्पादन बनाए जाने का आह्वान खाद्य एवं प्रसंस्करण इकाई से किया गया। उद्यमियों ने स्पष्ट कहा कि बनाना चिप्स का भविष्य उज्जवल है लेकिन इसमें तकनीकी जोखिम और बाजार के साथ ही पैकेजिंग पर विस्तृत अध्ययन करने की आवश्यकता है। यहां पर पर्याप्त मात्रा में कच्चा माल उपलब्ध है साथ ही बिहार एक उपभोक्ता राज्य है इसके लिए बाजार की समस्या नहीं है।

जिलाधिकारी द्वारा उद्यमियों को कहा गया कि वे केला चिप्स, शहद, ब्रेड बिस्किट तथा खाद्य प्रसंस्करण से जुड़े उत्पादन की विस्तृत योजना के साथ अगली बैठक में आए। प्रशासन द्वारा उन्हें जमीन, ऋण तथा हर प्रकार की सहायता उपलब्ध कराई जाएगी। वही उद्यमियों द्वारा यह सुझाव भी दिया गया कि हाजीपुर में बन रहे सभी उत्पादों का एक प्रदर्शन स्थल स्थापित किया जाना चाहिए ताकि जिले में बन रहे सभी उत्पाद एक ही जगह प्रदर्शित किया जा सके। साथ ही साथ उद्यमी द्वारा आम का बाजार विस्तृत एवं लाभदायक बनाने हेतु विस्तार से चर्चा की गई तथा उन्हें महाप्रबंधक के माध्यम से जिला उद्यान पदाधिकारी से व्यापक चर्चा करने का सलाह दिया गया। रेडीमेड गारमेंट उद्योग से जुड़े एक उद्यमी द्वारा अपनी सफल योजना का विस्तृत उल्लेख जिला पदाधिकारी के सामने किया गया जिसपर महाप्रबंधक को निर्देशित किया गया कि अविलंब स्थल निरीक्षण करें एवं नवप्रवर्तन में चयनित कर रेडीमेड वस्त्र इकाइयों का इसमें सहभागिता सुनिश्चित करने की संभावनाओं पर विचार करें । बैठक के अंत में जिला पदाधिकारी द्वारा वियाडा के सभी उद्यमियों को 1 सप्ताह के अंदर एक योजना के साथ उपस्थित होने का आग्रह किया गया इस बैठक से बियाडा के उद्यमियों में काफी खुशी दिखी।

Check Also

बंधुआ मजदूरी प्रथा उन्मूलन अंतर्गत गठित जिला स्तरीय निगरानी समिति की बैठक आयोजित

Hits: 0हाजीपुर/वैशाली। बंधुआ मजदूरी प्रथा उन्मूलन अधिनियम 1976 के अंतर्गत गठित जिला स्तरीय निगरानी समिति …

जिला सड़क सुरक्षा जागरूकता कार्यक्रम आयोजित

Hits: 0हाजीपुर/वैशाली। बिहार राज्य आपदा प्रबंधन प्राधिकरण परिवहन विभाग पटना एवं संकल्प ज्योति के संयुक्त …

error: Content is protected !!
%d bloggers like this: