Breaking News
Home / National / Bihar / माहवारी बंद होना यानी गर्भधारण नहीं, बंद होने के कई कारण

माहवारी बंद होना यानी गर्भधारण नहीं, बंद होने के कई कारण

Hits: 32

संसू। सोशल सर्विस एक्सप्रेस की महिला इकाई “एंजल द हेल्पिंग हैण्ड्स” द्वारा महिला सशक्तिकरण के उदेश्यों के साथ “स्वस्थ बिटिया – सशक्त बिटिया ” अभियान के तहत किशोरावस्था मे होने वाले हार्मोनल असंतुलन पर गोवर्धन विद्यापीठ ,रसुलपुर एकमा में जागरूकता कार्यक्रम का आयोजन किया गया। स्वस्थ बिटिया-सशक्त बिटिया अभियान की शुरुआत गोवर्धन विद्यापीठ के संरक्षक डॉ डी के ओझा, डॉ आलोक ओझा, डॉ सुष्मिता ओझा, डॉ किरण ओझा द्वारा संयुक्त रूप दीप प्रज्वलित कर किया गया। कार्यक्रम का स्वागत अतिथियों को पौधा प्रदान कर किया गया। कार्यक्रम को संबोधित करते हुए डॉ ओझा ने कहा कि स्कूल के स्थापना का उदेश्य ही महिला सशक्तिकरण को बढ़ावा देने के लिए किया गया था।

Vaanishree

किशोरियों के लिए ऐसे कार्यक्रम क्रमबद्ध रूप से होते रहने चाहिए ,ऐसे कार्यक्रम से किशोरियों में आत्मविश्वास की वृद्धि होती है और सशक्त बनती है। कार्यक्रम के उद्देश्यों को बताते हुए संस्था के भवर किशोर ने बताया कि संस्था का प्रयास है कि यह अभियान गाँव-गाँव तक जाए और इसी कड़ी में डॉ आलोक ओझा और सुस्मिता ओझा के सहयोग से संस्था गाँव मे पहुँची है।संस्था का प्रयास महिलाओं को जागरूक कर सशक्त करना है । कार्यक्रम में मुख्य रुप से शहर की डॉ किरण ओझा द्वारा बच्चियों को हार्मोनल असंतुलन व कई विषयों पर विस्तॄत जानकारी दी गई। कार्यक्रम में डॉ ओझा ने बताया कि लड़कियों में हार्मोनल असंतुलन एक आम समस्या है । माहवारी नही आने या बंद होने के कई कारण होते है ।

महिला सशक्तिकरण के प्रतीक दंपति को किया गया सम्मानित। कार्यक्रम में एकमा के दंपति श्रीमती शारदा देवी व श्री राजकुमार सिंह उर्फ कमल सिंह को उनके महिला सशक्तिकरण के लिए समाज को एक नई दिशा देने के लिए सम्मानित किया गया।

बताते चले कि दंपति को सात बेटियाँ है जहाँ आज बेटी को द्वितीय पंक्ति में स्थान देने वाली पुरुष मानसिकता है वही इन्होंने सभी बेटियों को शिक्षा दे उनके अपने पैरों पर खड़े होने को प्रेरित किया। परिणाम स्वरूप सात में से छः बेटियाँ देश और राज्य के संस्थाओं में परचम लहरा रहीं है। कार्यक्रम में जम्मू-कश्मीर में सी सीआरपीएफ में तैनात सोनी सिह,उत्पाद विभाग में तैनात पिंकी सिह और नेपाल बॉर्डर पर एस एस बी में तैनात रेणु सिंह मौजूद थी।

कार्यक्रम में मुख्य रूप से सोशल सर्विस एक्सप्रेस के मुकेश कुमार,सामाजिक गतिविधियों में शामिल रहे विनीत कुमार,ओम प्रकाश ,गोवर्धन विद्यापीठ के प्राचार्य राजेश पांडेय,रिंकू,भरत आदि की महत्वपूर्ण भूमिका रही।धन्यवाद ज्ञापन देते हुए डॉ सुस्मिता ओझा ने कहा कि संस्था का प्रयास अच्छा है। संचालन प्राचार्य राजेश पांडेय ने किया।

Check Also

170 कार्टून शराब की बड़ी खेप के साथ एक चालक व दो पीकअप धराया

Hits: 0राकेश कु०यादव, बछवाड़ा(बेगूसराय)। बछवाडा़ थाना क्षेत्र के विभिन्न पंचायतों में चोरी छिपे बडे़ पैमाने …

प्रोत्साहन राशि नहीं मिलने से छात्रों ने किया हंगामा

Hits: 0रिपोर्ट: अभिषेक राय, तेघङा। प्रखंड के ओमर उच्च विद्यालय तेघड़ा के वर्ष 2017 में …

error: Content is protected !!
%d bloggers like this: