Breaking News
Home / National / Bihar / आखिरकार एक साल बाद टूटी वैशाली प्रशासन की कुंभकरणी नींद

आखिरकार एक साल बाद टूटी वैशाली प्रशासन की कुंभकरणी नींद

Hits: 40

रिपोर्ट: शिशिर समीर,जन्दाहा। आखिरकार एक साल बाद वैशाली प्रसासन की कुंभकरणी नींद टूट ही गयी वो भी मीडिया के जगाने के बाद। एक साल बाद आज महुआ एसडीओ विनोद कुमार और जंदाहा बीडीओ मुकेश कुमार शहीद अभय के घर लोमा 5 लाख रुपया का चेक लेकर पहुँचे।

गौरतलब है कि पिछले वर्ष 24 अप्रैल 2017 को छत्तीसगढ़ के सुकमा नक्सली हमले में 25 सैनिक शहीद हुए थे। जिसके बाद केंद्र और राज्य सरकारों ने शहीद के सम्मान में मुआवजा की घोषणा की थी। जिसमे बिहार सरकार ने 5 – 5 लाख रुपये की घोषणा की थी। मगर उस दौरान जब प्रसासन ने परिजनों को 5 लाख का चेक देने का प्रयास किया था तब शहीद अभय के परिजन और ग्रामीणों ने यह कहकर चेक वापस कर दिया था कि सरकार अगर सम्मान नही दे सकती है तो उनके पैसों की भी कोई जरूरत नही।

आपको बताते चले कि उस दौरान मुख्यमंत्री या सरकार के कोई भी मंत्री एयरपोर्ट से लेकर घर तक न तो सम्मान देने आए और न ही परिजन से मिलने ही आये। इसी रोष में चेक लेने से इनकार कर दिया था।

वंही दूसरी ओर जिला प्रशासन ने अपने वार्षिक रिपोर्ट में सैनिक कल्याण बोर्ड को जो रिपोर्ट सौपा उसमे चेक देकर शहीद के परिजन को लाभ पहुचा देने की बात दर्शा दिया गया था। जिससे शहीद अभय के परिजनों में प्रसासन के प्रति और भी रोष व्याप्त हो गया था। इस बात का पता जब वाणीश्री …आप की आवाज को मिली तब इस मामले को अपने वेव चैनल द्वारा उजागर किया। उसके बाद कुछ अन्य मीडिया साथियों ने भी रिपोर्ट तैयार कर अपने अपने स्तर पर जनता और सरकार के आगे बात रखी। तब जाकर सरकार और प्रसासन की नींद टूटी और आज काफी समझाने बुझाने के बाद चेक दिया गया।

लेकिन शहीद अभय के परिजन चेक तो जरूर ले लिया मगर अब भी उनके अंदर सरकार के प्रति रोष बना हुआ है। उनका कहना है कि चेक जरूर मिल गया है मगर जो सम्मान मिलना चाहिए था वो नही मिल सका जो समाज के युवाओं के लिए ठीक नही है।

Check Also

गंडक तटबंध पर बचे कार्य के लिए व्यक्त की नाराज़गी

Hits: 0वैशाली।  जिलाधिकारी वैशाली श्रीमती उदिता सिंह ने अपर समाहर्ता , BDO वैशाली, CO हाजीपुर …

सहदेई बुजुर्ग बाजार स्थित सेंट्रल बैंक ऑफ इंडिया की शाखा के बाहर कोरोना गाइडलाइन की जमकर उड़ी धज्जियां

Hits: 0सहदेई बुजुर्ग – लॉकडाउन के दूसरे दिन सहदेई बुजुर्ग प्रखंड में एक और जहां …

error: Content is protected !!
%d bloggers like this: