Breaking News
Home / National / Bihar / बदबू के बीच जीने को विवश हैं मोहल्ले वासी रास्ते पर ही फेंक दीया जाता है कूड़ा-कचड़ा

बदबू के बीच जीने को विवश हैं मोहल्ले वासी रास्ते पर ही फेंक दीया जाता है कूड़ा-कचड़ा

Hits: 4

रिपोर्ट: मो.अंजुम आलम,जमुई (बिहार) एक तरफ सरकार स्वच्छ भारत स्वस्थ्य भारत का ढिंढोरा पीट रही है तो दूसरी तरफ जनप्रतिनिधि और अधिकारियों की लापरवाही से मोहल्ले वासी बदबू के बीच रहने को विवश हो रहे हैं।बताते चलें कि शहर स्थिति महिसौड़ी मोहल्ले के वार्ड नम्बर-13 यह दृश्य देखने को मिला।जहाँ लोग रास्ते पर ही घर के कचड़े को फेंकते हैं।और जब कचड़ों का अंबार लग जाता है तो नगरपरिषद के कर्मी आते हैं और जैसे-तैसे कचड़ा को उठाते हैं।लेकिन अब तो लगभग एक महीना से न कोई सफाई कर्मी आ रहे हैं और न ही कोई इस कूड़े-कचड़े पर ध्यान दे रहे हैं। आलम ये है कि लोग कचड़े की बदबू के बीच रहने और कचड़े पर से ही गुजरने मजबूर हैं।

इस संबंध में स्थानिए लोगों का कहना है कि नगरपरिषद के द्वारा आज तक कूड़ादान नहीं दिया गया है।और न ही कूड़े-कचड़े को फेंकने की सुविधा दी गई है जिससे सभी लोग बीच गली में ही कूड़ा फेंक कर चले जाते हैं।जबकि सभी घरों में कूड़ा-कचड़ा रखने के लिए बाल्टी भी दी गई थी लेकिन उसमें कूड़ा-कचड़ा के बजाय गेहूं और चावल रखे जा रहे हैं।बाल्टी की जगह लोग गली में ही कूड़ा फेंक रहे हैं।जिससे स्थानिए लोगों को दिन और रात बदबू के बीच रहने की आदत हो गई है।इतना ही नहीं जब राहगीर उस गली से गुजरते हैं तो मुंह और नाक बंद कर जाते हैं।

कहते हैं मोहल्ले वासी

इस संबंध में महिसौड़ी वार्ड नं-13 मोहल्ले के निवासी मो.शफीक अंसारी कहते हैं कि इसकी शिकायत कई बार अधिकारियों व जनप्रतिनिधि से की गई है लेकिन अब तक इस ओर कोई कदम नहीं उठाया गया है।और सफाई कर्मी जब आते हैं तो पूरे घर के कचड़े को जमा कर गली के बीच रास्ते पर इकट्ठा कर देते हैं।और कचड़ा उठाने वाली गाड़ी के आने की बात कह चले जाते है।
वहीं वार्ड नम्बर-13 निवासी रिजवान का कहना है कि घर के आगे में कूड़ा फेंक कर लोग चले जाते हैं और कुछ मोहल्ले वासी के द्वारा ही कूड़ा फेंकने को कहा जाता है।मना करने के बावजूद लोग नहीं मानते हैं।और दरवाज़े के समीप कूड़ा फेंक कर चले जाते हैं।

कहते हैं वार्ड आयुक्त

महिसौड़ी मोहल्ला वार्ड नम्बर-13 के वार्ड आयुक्त मो.फिरोज़ आलम उर्फ डीसू ने बताया की मोहल्ले के सभी घरों में कूड़ा रखने के लिए बाल्टी दी गई है लेकिन लोग बाल्टी में कूड़ा रखने के बजाय नहाने के लिए इस्तेमाल कर रहे हैं।कई बार लोगों को समझाया गया है लेकिन फिर भी लोग कूड़े-कचड़े को गाली में ही फेंक देते हैं।सड़क पर नाले का निर्माण को लेकर कुछ दिन से कूड़ा उठाने वाली गाड़ी मोहल्ले में नहीं आ पा रही है जिससे कूड़ा कई दिनों से जमा हो चुका है।जल्द ही सफाई करवाई जाएगी।

Check Also

लोजपा प्रत्याशी संजय सिंह ने चलाया जनसंपर्क अभियान

Hits: 0महुआ । महुआ विधानसभा क्षेत्र के लोजपा प्रत्याशी संजय सिंह ने महुआ प्रखंड के …

चोरी की बढ़ते घटना से लोगों में दहशत

Hits: 0महुआ । महुआ थाना क्षेत्र के मंगुराही पंचायत के मंगुराही गांव में गुरुवार की …

error: Content is protected !!
%d bloggers like this: