Breaking News
Home / National / Bihar / Vaishali / Raghopur / Bidupur / अमेर में मनरेगा योजना एव मुख्यमंत्रीं सात निश्चय योजना में अनियमितता

अमेर में मनरेगा योजना एव मुख्यमंत्रीं सात निश्चय योजना में अनियमितता

Hits: 50

नलिनी भारद्वाज, बिदुपुर, वैशाली। बिदुपुर प्रखंड अंतर्गत ग्राम पंचायत राज अमेर में मनरेगा योजना एव मुख्यमंत्रीं सात निश्चय योजना में पंचायत सेवक एवं मुखिया के मिलीभगत से बरती जा रही अनियमितता की जाँच  के लिए पंचायत के उपमुखिया एवं वार्ड सदस्य  द्वारा प्रखंड विकास पदाधिकारी बिदुपुर, जिलाधिकारी वैशाली,मंत्री ग्रामीण विकास विभाग एवं मुख्यमंत्री बिहार को दो अलग अलग आवेदन देकर जाँच की मांग की गई है।

साथ ही आवेदन में यह भी कहा गया कि अगर एक सप्ताह के अंदर अगर इस संबंध में कोई ठोस कार्यवाई नही होती है तो आगामी दिनांक 30 मई को को प्रखंड मुख्यालय पर एक दिवसीय धरना प्रदर्शन किया जाएगा।

इस संबंध में पूछे जाने पर पंचायत के उप मुखिया बबली देवी एवं वार्ड संख्या 10 के वार्ड सदस्य सह जिला महामंत्री, वार्ड संघ वैशाली विभीषण कुमार सिंह ने बताया कि पिछले डेढ़ साल से अब तक अमेर पंचायत में एक भी ग्रामसभा एवं कार्यकारिणी की बैठक नहीं बुलाई गई तथा बिना ग्राम सभा से पारित किए ही पंचायत सचिव एवं मुखिया के मिलीभगत से योजनाओं को चालू कर दिया।

इतना ही नहीं मनरेगा के तहत जो मिट्टी भराई का कार्य कराया गया है, उसमें मिट्टी की जगह गंगा लोकल सैंड का प्रयोग धरल्ले से किया गया है। साथ योजनाओं में सबसे घटिया यानी थर्ड क्वालिटी के ईट का प्रयोग कर पर्याप्त मात्रा में लूट खसोट किया गया है।प्रखंड मुख्यालय सहित पशु पालन अस्पताल के इर्द गिर्द थर्ड क्वालिटी के ईंट से सोलिंग किये जाने की शिकायत की है।

वही एक भी योजना का बोर्ड एवम प्रस्तावित प्राकलन की राशि अंकित नही किया गया है।जिस कारण स्पष्ट है की योजनाओ में भारी पैमाने पर प्रशासन के नाक के नीचे अनियमितता बरते जा रहे है।जबकि गत वर्ष मुख्यमंत्री नीतीश कुमार के फरवरी माह में आगमन पर प्रखंड मुख्यालय सहित अस्पताल परिसर आदि में दिन रात एक कर ईंट सोलिंग का कार्य जैसे तैसे किया गया और विभागीय मिलीभगत से राशि का बंदरबाट भी किये जाने की शिकायत उजागर हुआ है।

इसके साथ ही उन्होंने बताया कि मुख्यमंत्री सात निश्चय योजना में भी काफी अनियमितता बरती गई है।इस योजना के तहत वार्ड रोस्टर को तोड़कर जिस वार्डों में सबसे अंत मे काम होना था उस वार्ड में सबसे पहले राशि का ट्रांसफर कर काम को चालू करा दिया गया जबकि जिस वार्ड में सबसे ज्यादा अनुसूचित जाति का घर है और रोस्टर के अनुसार सबसे पहले काम होना था।  उस राशि का ट्रांसफर भी नहीं किया गया।

प्राप्त जानकारी के अनुसार वार्ड 2 जो महादलित बस्ती है,वहाँ आज तक सात निश्चय योजना का कार्य प्रारम्भ भी नही किया गया है,जबकि सबसे पहले रोस्टर के अनुसार महादलित बस्ती में ही कार्य प्रारम्भ करना था।वही वार्ड संख्या 11 दलित बस्ती है,रोस्टर तोड़ कर कार्य किये जाने की शिकायत उजागर हुआ है।वही जहाँ दलित महादलित बस्ती नही है,वहाँ कार्य किये जाने की शिकायत मिली है।मनरेगा कार्य में भी गुणवत्ता की अनदेखी बरे पैमाने पर किये जाने की शिकायत उजागर हुई है।

इस सम्बन्ध में बी डी ओ दुनिया लाल यादव ने बताया की यदि रोस्टर तोड़कर कार्य किया गया होगा तो सम्बन्धित कर्मी के विरुद्ध कार्रवाई की जायेगी। वही मनरेगा पी ओ रजनीश शेखर ने बताया की वे सभी योजनाओ के स्थल पर बोर्ड लगवाने का निर्देश दिये है और गुणवत्ता में किसी तरह की शिकायत मिलने पर अवश्य कार्रवाई की जायेगी।

Check Also

लोजपा प्रत्याशी संजय सिंह ने चलाया जनसंपर्क अभियान

Hits: 0महुआ । महुआ विधानसभा क्षेत्र के लोजपा प्रत्याशी संजय सिंह ने महुआ प्रखंड के …

चोरी की बढ़ते घटना से लोगों में दहशत

Hits: 0महुआ । महुआ थाना क्षेत्र के मंगुराही पंचायत के मंगुराही गांव में गुरुवार की …

error: Content is protected !!
%d bloggers like this: