Breaking News
Home / National / Bihar / आग से लाखो की सम्पति राख

आग से लाखो की सम्पति राख

Hits: 25

रिपोर्ट:विशाल शाही, गोपालगंज। तेज पछिया हवा के बीच रविवार को आग लगने की कई घटनाएं हुई। इन घटनाओं में 180 एकड़ में लगी गेहूं की खड़ी फसल जलकर राख हो गई। आग लगने की इस घटना में घंटों कोहराम मचा रहा।

आग की लपटें इतनी तेज थी कि करीब दो घंटे तक भोरे-बगहीं पथ पर आवागमन बाधित रहा। लोगों ने आग पर काबू पाने के लिए काफी प्रयास किया। लेकिन करीब तीन घंटे तक भोरे में आग का तांडव जारी रहा।

कई थाना क्षेत्रों में हुई अगलगी की घटना में तीस घर जलकर राख हो गए। इस बीच आग की चपेट में आने से महम्मदपुर थाना क्षेत्र के कुशहर गांव में एक स्कूली छात्रा की झुलस कर मौत हो गई। इस घटना के बाद कुशहर गांव में घंटों चीख पुकार मची रही।भोरे में लगी भीषण आग की चपेट में आने से करीब 150 एकड़ गेहूं की फसल सहित आठ घर जल कर राख हो गये।

ग्रामीणों के प्रयास से जबतक आग पर काबू पाया जाता, तबतक लाखों का नुकसान हो चुका था। पछिया हवा के प्रकोप के बीच ग्रामीणों को आग पर काबू पाने में काफी मशक्कत भी करनी पड़ी। जानकारी के अनुसार प्रखंड के पश्चिमी क्षेत्र में स्थित शाहपुर गांव में बिजली की शॉर्ट सर्किट से निकली ¨चगारी से अचानक आग लग गई।

इस गांव में लगी आग पर काबू पाने के लिए फायर बिग्रेड की मदद ली ही जा रही थी कि कुछ दूरी पर स्थित चकरवां गांव में अचानक आग लग गई। तेज पछिया हवा के प्रकोप के बीच कुछ ही देर में आग ने विकराल रूप पकड़ लिया। आग तेजी से फैलते हुए भोरे-कटेया मुख्य पथ पर पहुंच गई। इसके बाद तो आग भीषणता को देख कर पूरे इलाके में हाहाकार मच गया और बाजार सहित घरों से लोग घटनास्थल की तरफ दौड़ने लगे। लेकिन मौके पर पहुंचने के बावजूद आग पर काबू पाने की कोई कोशिश कामयाब नहीं हो सकी।

यहां सबसे भीषण और भयावह स्थिति तो बेजवां गांव की हो गई। जहां पूरा गांव ही आग की चपेट में आ गया। आग की इस भयानक रूप को देख कर ग्रामीण अपने अपने घरों पलायन करने को विवश हो गए। हालांकि आस पास के गांवों के लोगों ने अपनी सक्रियता और सूझबूझ के साथ गांव के चारों तरफ खड़े गेहूं फसलों में लगी आग पर काबू पाया। लेकिन तबकत काफी नुकसान हो चुका था इस दौरान गांव के नंदलाल शर्मा, मंगरू बैठा, विजय वर्मा, रमापति मिश्र, झूनझून मिश्र सहित आठ लोगों की आवासीय झोपड़ी जल कर राख हो गई। साथ ही संतोष मिश्र, झूनझून मिश्र, शंभु मिश्र, रंजन मिश्र, संतोष मिश्र, बुलेट मिश्र सहित करीब दो दर्जन किसानों के लाखों की फसल खाक हो गई।

आग का यह सिलसिला यहीं तक नहीं थमा। यह अपना रौद्र रूप लेकर बेलवां गांव के पास स्थित ईंट भट्ठा होते हुए भोरे-बगहीं रोड़ तक जा पहुंचा। इस दौरान खेतों में पड़े गेंहू के फसल धू-धू कर जलते रहे। भोरे-बगहीं पथ पर भी आवागमन बंद हो गया। इस बीच मौके पर पहुंची अग्निशमन विभाग के वाहन ने आम लोगों की मदद से आग पर काबू पाया।

Check Also

लोजपा प्रत्याशी संजय सिंह ने चलाया जनसंपर्क अभियान

Hits: 0महुआ । महुआ विधानसभा क्षेत्र के लोजपा प्रत्याशी संजय सिंह ने महुआ प्रखंड के …

चोरी की बढ़ते घटना से लोगों में दहशत

Hits: 0महुआ । महुआ थाना क्षेत्र के मंगुराही पंचायत के मंगुराही गांव में गुरुवार की …

error: Content is protected !!
%d bloggers like this: